वाराणसी। भगवान शिव की नगरी काशी में सोमवार से गणेश महोत्सव का शुभारंभ हो चूका हैं। गणेश चतुर्थी से लगातार सात दिन चलने वाले गणेश महोत्सव को लेकर भक्तों में गजब का उल्लास छाया हुआ हैं।

इसी क्रम में शहर के दूध विनायक क्षेत्र में नूतन बालक गणेश मंडल के 111वें गणेश महोत्सव मनाया जा रहा है। जिसमे विघ्नहर्ता गणेश की मूर्ति को स्थापित कर लगातार सात दिनों तक पूजा अर्चना किया जाएगा।

विज्ञापन
Loading...

इस अवसर पर डॉ माधव जनार्दन ने बताया कि हम लोग महाराष्ट्र की संस्कृति से जुड़े हुए है। हम लोगों के लिए बहुत ही जरुरी है कि हम लोग अपनी संस्कृति को सहेज कर रखें। हम लोग महाराष्ट्र और उत्तर भारत की संस्कृतियों का आदान प्रदान गणेश महोत्सव के माध्यम से करते है। हम लोग यहां लगभग 400 वर्षो से यहां निवास करते है।

वही उन्होंने बताया कि हम लोग अपनी संस्कृति और यहां की संस्कृति का सम्मान करते हुए बहुत है गौरव की अनुभूति होती हैं। हम लोग महाराष्ट्र की परंपरा से ही यहां पर गणेश उत्सव मनाते है।

 

Loading...